लोहरदगा पहुंचे पुलिस महानिदेशक नीरज सिन्हा, कहा नक्सली हथियार डालें या फिर गोली खाएं।

0

अमर गोस्वामी की रिपोर्ट

लोहरदगा: जिले के अति नक्सल प्रभावित सेरेंगदाग थाना क्षेत्र में आईईडी ब्लास्ट में जवान की शहादत के बाद झारखंड के डीजीपी नीरज सिन्हा बुधवार को लोहरदगा पहुंचे हैं। यहां पहुंचते ही उन्होंने घटनास्थल के लिए रवाना हुए। इसके बाद पुलिस के वरीय पदाधिकारियों के साथ सेरेंगदाग थाना में बैठक कर नक्सलियों के विरुद्ध आगे के अभियान की रणनीति तैयार कर नक्सलियों की घेराबंदी कर मुंहतोड़ जवाब देने की योजना बनाई। गौरतलब है कि मंगलवार को लोहरदगा के सुदूरवर्ती उग्रवाद प्रभावित सेरेंगदाग थाना क्षेत्र के जुड़नी-चपाल के बीच लोहरदगा-गुमला जिले के सीमावर्ती चपाल जंगल में आइईडी ब्लास्ट में सैट-3 के जवान दुलेश्वर परास शहीद हो गए थे। जिसके बाद पुलिस प्रशासन पूरी तरह से सक्रिय हो गई है। इसे लेकर नीचे तुरियाडीह से ऊपर आवागमन को रोक लगा दिया गया है। किसी भी आम आदमी को नीचे से ऊपर एवं उपर से नीचे आने-जाने नहीं दिया जा रहा है। आवागमन को पूरी तरह से रोक दिया गया है। पूरे इलाके में चप्पे-चप्पे पर शस्त्रबल पुलिस और सीआरपीएफ के जवान तैनात हैं। डीजीपी के साथ एडीजी आपरेशन नवीन कुमार सिंह और आईजी आपरेशन साकेत कुमार सिंह भी मौजूद हैं । यहां पर इन अधिकारियों द्वारा घटना स्थल के आसपास का मुआयना कर नक्सलियों के खिलाफ योजनाबद्ध तरीके से पुलिसिया कार्रवाई की रणनीति तैयार की जा रही है।