लोहरदगा: भ्रष्ट अमीन अजय कुमार को किनका संरक्षण जो अब-तक कार्रवाई हुई नहीं।

0

अमर गोस्वामी की रिपोर्ट

लोहरदगा: जिले के किस्को अंचल में पदस्थापित भ्रष्टाचार में लिप्त अंचल अमीन अजय कुमार को किनका संरक्षण प्राप्त है जो महिनो गुजर जाने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई है यह एक सवाल जनता की ओर से प्रशासन के समक्ष जा पहुंची है बावजूद कार्रवाई नहीं होना कई सवालों को खुद ब खुद जन्म दे डाली है। आखिर भ्रष्ट अमीन अजय कुमार को किनका संरक्षण प्राप्त है जिससे अब तक बेखौफ होकर अंचल अमीन अजय कुमार अंचल कार्यालय का चक्कर काटते-फिरते दिखाई देते हैं। जबकि महिनों गुजर चुका है फिर भी ऐसे भ्रष्ट अमीन पर विभागीय शिकंजा नहीं कसे जाने से जरा सा भी खौफ दिखाई नहीं दे रहा है बल्कि भ्रष्ट अमीन अजय कुमार का हौसला दिन ब दिन और भी बुलंद होता दिखाई दे रहा है। मालूम हो कि बीते दिनों किस्को अंचल के अमीन अजय कुमार द्वारा जमीन मापी हेतु कुड़ू अंचल क्षेत्र के भुक्तभोगी किसानों से हजारों रूपये की मांग की गई थी जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर जोरों पर चर्चा का विषय बना हुआ था इससे न सिर्फ जिले के जनता व अधिकारी अवगत हैं बल्कि राज्य से लेकर देश स्तर के अधिकारी व कर्मी सहित आम जनता भ्रष्ट अमीन अजय कुमार के कार्यशैली से बखूबी अवगत है बावजूद ऐसे कर्मी के विरुद्ध सख्त कार्रवाई नहीं होना प्रशासन के उदासीन रवैया को धरातल पर दर्शाता है। यदि यही आलम आगे भी रहा तो न जाने कितने गरीबों की खून पसीने की कमाई ऐसे भ्रष्ट कर्मियों का निवाला बनता रहेगा और भ्रष्ट अधिकारियों एवं कर्मियों का मनोबल सातवें आसमान पर विराजमान दिखाई देगा। आखिर कब तक ऐसे भ्रष्ट कर्मी पर अंकुश लगाया जाएगा यह बड़ा सवाल लोगों के जेहन में वायरस की तरह घूम रही है फिर भी प्रशासन की नींद नहीं खुल रही है। एक ओर सरकार भ्रष्ट अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर अंकुश लगाने की बात करती है वहीं दूसरी ओर सरकार के आदेशों को चुनौती देते हुए अजय कुमार जैसे अंचल अमीन लोगों से बेधड़क पैसे की मांग करते हुए दिखाई दे रहे हैं फिर भी ऐसे भ्रष्ट अमीन अजय कुमार पर सरकार की ओर से शिकंजा नहीं कसे जाने से अमीन अजय कुमार का हौसला काफी बढ़ गया है और लोगों से बिगड़े बोल की भाषा बोलते फिरते हैं। यदि अंचल अमीन अजय कुमार के विरूद्ध कार्रवाई नहीं होती है तो लोगों का सरकारी तंत्र से भरोसा उठ सकता है।