विगत 17 जनवरी को पीरी बाजार में दिनदहाड़े हुए परमेश्वर साव ब्लाईंड मर्डर केश का किया खुलासा।

0

परमेश्वर साव ब्लाइंड मर्डर केस से उठा पर्दा, न्यू जेपीसी गिरोह के अपराधियों ने पुलिस मुखबिरी के आरोप में दिया था घटना को अंजाम।जेल से ही रची थी हत्या की गंदी साजिश, बाहर निकलकर कांड को अंजाम देकर फैलाया था दहशत।पूर्व में जेपीसी नक्सली संगठन से जुड़े थे सभी गिरफ्तार पांच पेशेवर अपराधी।न्यू जेपीसी अपराधी गिरोह बनाकर फैला रखा था दहशत।315 बोर का दो रायफल, 51 राउंड जिंदा कारतूस, AK-47 का तीन जिंदा कारतूस, एक देशी सिक्सर, एक देशी कट्टा व 0K027Z अंकित पांच जिंदा कारतूस बरामद।

चतरा: सिमरिया पुलिस को बड़ी सफलता हांथ लगी है। विगत 17 जनवरी को थाना क्षेत्र के पीरी बाजार में दिनदहाड़े हुए परमेश्वर साव ब्लाईंड मर्डर केश का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। सिमरिया एसडीपीओ अशोक रविदास के नेतृत्व में एसपी ऋषव झा द्वारा गठित विशेष छापेमारी टीम ने अभियान के दौरान अपराधिक गिरोह न्यू जेपीसी के पांच अपराधियों मनोज भोक्ता, तारकेश्वर भोक्ता, बिनोद गंझू, बीरेंद्र गंझू व मनोज गंझू को हथियार के साथ गिरफ्तार किया है। सिमरिया थाना क्षेत्र के बोगादाग से दो व हुरणाली गांव से तीन पेशेवर अपराधियों की गिरफ्तारी हुई है। वहीं गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने .315 बोर का दो रायफल, 51 राउंड जिंदा कारतूस, AK-47 का तीन जिंदा कारतूस, एक देशी सिक्सर, एक सिंगल शॉट देशी कट्टा व OK027Z अंकित पांच जिंदा कारतूस भी बरामद किया है। एसपी ऑफिस में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुलिस अधीक्षक ऋषव झा ने बताया कि गिरफ्तार सभी अपराधी पूर्व में जेपीसी नामक नक्सली संगठन से जुड़े थे। उन्होंने बताया कि पूर्व में गिरफ्तार पांचों अपराधियों ने जेल से ही बाहर निकलकर परमेश्वर के हत्या की गंदी साजिश रची थी। परमेश्वर पर पुलिस का सहयोग कर उन्हें गिरफ्तार कराने का आरोप लगाकर अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया था। हत्याकांड को अंजाम देने के बाद सभी मिलकर नया अपराधिक गिरोह बनाकर क्षेत्र में छोटी-बड़ी घटना को अंजाम देकर दहशत फैलाते हुए लेवी वसूली का प्रयास में जुटे थे। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के विरुद्ध हत्या व 17 सीएलए समेत अन्य धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कर उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेजते हुए आगे की कार्रवाई की जा रही है। गिरोह में और कौन-कौन से अपराधी शामिल है, इसकी भी पड़ताल की जा रही है। जल्द ही शेष बचे अपराधियों को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाएगा।