विधायक ढुल्लू के खिलाफ निर्भया की तर्ज पर सीएम हेमंत से इंसाफ की पीड़िता ने लगाई गुहार

0

धनबाद: बाघमारा के भारतीय जनता पार्टी के विधायक ढुलू महतो के खिलाफ दुष्कर्म के प्रयास की पीड़िता ने निर्भया की तर्ज पर इंसाफ की गुहार झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से लगाई है। पीड़िता ने अपने को को कतरास का निर्भया का दर्जा देते हुए सीएम से कहा कि झारखंड की पूर्व भाजपा सरकार ने विधायक ढुलू को बचाने का काम किया। हेमंत सरकार से उसे न्याय की आस है विधायक की गिरफ्तारी होनी चाहिए।

खबरों के अनुसार सीएम हेमंत सोरेन अपने पूर्व निर्धारित धनबाद दौरे में लगभग एक घंटे विलंब से संध्या साढ़े पांच बजे परिसदन पहुंचे। खास बात यह रही कि उनके आगमन के पहले से ही वहां काफी लोग स्वागत और उनसे मिलने के लिए बेताब थे। सीएम जैसे ही परिसदन में घुसे। उनके साथ साथ कांग्रेस नेता मन्नान मल्लिक व पूर्व मंत्री जलेश्वर महतो और कुछ लोग कमरे में प्रवेश कर गए। डीसी अमित कुमार, एसएसपी किशोर कौशल, डीडीसी बाल किशुन मुंडा व अन्य अधिकारी भी कमरे में गए। लगभग एक घंटा बीतने के बाद भी सीएम किसी से नहीं मिले। जब निकलने लगे तो कमांडो ने मोर्चा संभाल लिया। तभी अंदर से आवाज आई इस महिला को अंदर आने दो। वह महिला बाघमारा के विधायक ढुलू महतो पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली थीं। वह ढुलू महतो के खिलाफ कार्रवाई का मांग पत्र लेकर पहुंची थी। इस मामले से सीएम भी अवगत थे।

महिला ने मुख्यमंत्री से मिलकर कहा कि दिल्ली की निर्भया को तो इंसाफ मिल गया, लेकिन मैं कतरास की निर्भया इंसाफ के लिए संघर्ष कर रही हूं। अब इंसाफ दीजिए। उसे अब भी कई तरह की यातनाएं सहनी पड़ रही है। आर्थिक तंगी के कारण खाने-पीने व बच्चों की स्कूल फीस भरने के भी लाले हैं। चंद मिनट में महिला ने मुख्यमंत्री से अपनी शिकायत की और खुशी-खुशी बाहर आ गई। पीछे-पीछे सीएम भी निकल गए। उनसे मिलने पहुंचे अन्य लोगों को निराशा हाथ लगी। सीएम अन्य किसी से नहीं मिल सके।