सफाईकर्मी का पुत्र बना प्रतियोगिता का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी

0

सिल्ली:- सफाई कर्मी के पुत्र चंदन कुमार प्रमाणिक के तीरंदाजी में गोल्ड चैंपियन बनने पर सिल्ली का नाम रोशन किया। चंदन झारखंड खेल प्राधिकरण द्वारा संचालित तीरंदाजी केंद्र की प्रशिक्षु है परंतु पिछले 1 वर्ष से लॉक डाउन के कारण केंद्र बंद होने के कारण चंदन घर से बिरसा मुंडा तीरंदाजी अकैडमी के कोच प्रकाश राम और शिशिर महतो के नेतृत्व में अपना अभ्यास जारी रखा है चंदन की मां साझा द्वारा संचालित सफाई की काम करती है। परंतु पिछले 1 वर्ष से लॉक डाउन के कारण केंद्र बंद रहने के कारण काम भी बंद है। फिर भी वह तीरंदाजी केंद्र में ही काम कर थोड़ी बहुत रोजगार कर लेती है एवं उसी से घर चलता है पिता गोपाल प्रमाणिक मेन रोड के किनारे यात्री शेड पर सैलून चलाते हैं मगर वह भी फ़िलहाल बंद है एवं वे भी बेरोजगार है। घर में विकट परिस्थितियों के बावजूद भी सिल्ली सुलूमजूड़ी निवासी चंदन प्रामाणिक ने पिछले दिनों चाईबासा सरायकेला में आयोजित 14 वीं राज्यस्तरीय इंडियन राउंड तीरंदाजी प्रतियोगिता में मिनी सब जूनियर में पांच स्वर्ण, सब जूनियर में दो कांस्य एवं सीनियर में एक गोल्ड, एक रजत पदक प्राप्त कर प्रतियोगिता का सर्वश्रेष्ठ तीरंदाज बना। उनके इस उपलब्धि पर कोच प्रकाश राम ,शिशिर महतो तथा केंद्र के सभी खिलाड़ियों ने बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।