सुखदेव सिंह ने झारखंड के मुख्य सचिव का पदभार ग्रहण किया

0

रांची:भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी सुखदेव सिंह ने बुधवार को झारखंड के 23वें मुख्य सचिव के रूप में झारखंड मंत्रालय में पदभार ग्रहण किया।

इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से झारखंड मंत्रालय में सेवानिवृत्त हुए मुख्य सचिव डॉ डीके तिवारी ने शिष्टाचार मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने डॉ तिवारी को शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

सुखदेव सिंह हरियाणा में जन्मे 1987 बैच के इस आइएएस अधिकारी की छवि एक इमानदार अधिकारी की रही है और अपने लंबे कार्यकाल में इन्होंने सभी विभागों में काम किया है। 1989 से 1991 तक इनकी पोस्टिंग एसडीओ के रूप में रही और इसके बाद 1991 से 1993 तक डीडीसी रहे। सुखदेव सिंह को पहली बार उपायुक्त का प्रभार देवघर में मिला, जिसके बाद बोकारो, गिरिडीह रांची जैसे जिलों में भी उन्होंने उपायुक्त का प्रभार संभाला।

सुखदेव सिंह सरकार के तमाम विभागों से लेकर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव तक का दायित्व संभाल चुके हैं। यह उन चंद अफसरों में शामिल है जिनसे कोई भी विभाग अछूता नहीं रहा है। बिहार कैडर से अपनी सेवा शुरू करने के बावजूद जिन चार जिलों में उन्हें उपायुक्त का जिम्मा मिला वे सभी झारखंड के थे। इतना ही नहीं, जब अलग राज्य का गठन हुआ तो 11 महीनों तक वे राजधानी रांची के उपायुक्त रहे। बेबाक छवि के सुखदेव सिंह 2018 में मुख्य सचिव कैडर के अधिकारी बने और अब उन्हें मुख्य सचिव का जिम्मा मिला है। उनके पास अभी चार वर्षों का लंबा कार्यकाल है।