सुरक्षाबलों और टीपीसी के नक्सली मुठभेड़, एक ढेर, भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद

0

सुरक्षाबलों को टार्गेट करने में जुटे टीएसपीसी नक्सलियों को पुलिस का मुंहतोड़ जवाब, नक्सली ढ़ेर भारी मात्रा में हथियार बरामद

चतरा : विधानसभा चुनाव के दौरान पेट्रोलिंग पर निकली पुलिस पार्टी को निशाना बनाने के फिराक में लगे टीएसपीसी नक्सलियों को पुलिस व पारा मिलिट्री फोर्स की संयुक्त टीम ने मुंह तोड़ जवाब दिया है। गुप्त सूचना के आधार विशेष नक्सल विरोधी अभियान में निकली पुलिस व सीआरपीएफ 190 बटालियन के अलावे अन्य पारा मिलिट्री फोर्स की टीम ने मुठभेड़ के दौरान तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमेटी प्रतिबंधित नक्सली संगठन के एरिया कमांडर मोहन गंझू उर्फ गुलशन को मार गिराया। वहीं मुठभेड़ स्थल से एक एके-47 व एसएलआर रायफल समेत भारी मात्रा में हथियार, कारतूस व नक्सली साहित्य बरामद किया है। समाहरणालय स्थित पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में एसपी अखिलेश वी वारियर ने बताया कि चतरा के लावालौंग, सिमरिया व लातेहार जिले के हेरहंज व बालूमाथ थाना के सीमावर्ती जंगली इलाकों में टीएसपीसी नक्सलियों के गतिविधि की सूचना लगातार पुलिस को मिल रही थी। सूचना पर लातेहार एसपी व अन्य वरीय पुलिस पदाधिकारियों से वार्ता के बाद सीआरपीएफ, जिला बल, झारखंड जगुआर व अन्य पारा मिलिट्री फोर्स की संयुक्त टीम का गठन कर अभियान के लिए जंगल मे भेजा गया था। अभियान के दौरान ही नक्सलियों ने पुलिस को परिलक्षित करते हुए नावाडीह जंगल में फायरिंग शुरू कर दी। जिसका मुंह तोड़ जवाब अभियान में शामिल जवानों ने दिया। एसपी ने बताया कि करीब दो घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद इलाके में विशेष सर्च अभियान चलाया गया। अभियान के दौरान टीएसपीसी एरिया कमांडर गुलशन का शव बरामद किया गया वहीं। एके-47 व एसएलआर समेत कई ऑटोमेटिक हथियार व कारतूस के अलावे भारी मात्रा में नक्सली साहित्य बरामद किए गए।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुठभेड़ में मारे गए नक्सली के विरुद्ध चतरा व लातेहार जिले के विभिन्न थानों में आधा दर्जन से अधिक नक्सल मामले दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि अभियान में शामिल अधिकारियों और जवानों को पुरस्कृत किया जाएगा।विधानसभा चुनाव के दौरान पेट्रोलिंग पर निकली पुलिस पार्टी को निशाना बनाने के फिराक में लगे टीएसपीसी नक्सलियों को पुलिस व पारा मिलिट्री फोर्स की संयुक्त टीम ने मुंह तोड़ जवाब दिया है। गुप्त सूचना के आधार विशेष नक्सल विरोधी अभियान में निकली पुलिस व सीआरपीएफ 190 बटालियन के अलावे अन्य पारा मिलिट्री फोर्स की टीम ने मुठभेड़ के दौरान तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमेटी प्रतिबंधित नक्सली संगठन के एरिया कमांडर मोहन गंझू उर्फ गुलशन को मार गिराया। वहीं मुठभेड़ स्थल से एक एके-47 व एसएलआर रायफल समेत भारी मात्रा में हथियार, कारतूस व नक्सली साहित्य बरामद किया है। समाहरणालय स्थित पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में एसपी अखिलेश वी वारियर ने बताया कि चतरा के लावालौंग, सिमरिया व लातेहार जिले के हेरहंज व बालूमाथ थाना के सीमावर्ती जंगली इलाकों में टीएसपीसी नक्सलियों के गतिविधि की सूचना लगातार पुलिस को मिल रही थी। सूचना पर लातेहार एसपी व अन्य वरीय पुलिस पदाधिकारियों से वार्ता के बाद सीआरपीएफ, जिला बल, झारखंड जगुआर व अन्य पारा मिलिट्री फोर्स की संयुक्त टीम का गठन कर अभियान के लिए जंगल मे भेजा गया था। अभियान के दौरान ही नक्सलियों ने पुलिस को परिलक्षित करते हुए नावाडीह जंगल में फायरिंग शुरू कर दी। जिसका मुंह तोड़ जवाब अभियान में शामिल जवानों ने दिया। एसपी ने बताया कि करीब दो घंटे तक चली मुठभेड़ के बाद इलाके में विशेष सर्च अभियान चलाया गया। अभियान के दौरान टीएसपीसी एरिया कमांडर गुलशन का शव बरामद किया गया वहीं। एके-47 व एसएलआर समेत कई ऑटोमेटिक हथियार व कारतूस के अलावे भारी मात्रा में नक्सली साहित्य बरामद किए गए। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मुठभेड़ में मारे गए नक्सली के विरुद्ध चतरा व लातेहार जिले के विभिन्न थानों में आधा दर्जन से अधिक नक्सल मामले दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि अभियान में शामिल अधिकारियों और जवानों को पुरस्कृत किया जाएगा।