सुरक्षाबलों को नुकसान पहुंचाने के लिए नक्सलियों ने 21 सीरीज बम लगाए थे,सतर्क जवानों ने किया डिफ्यूज

0

चाईबासा : सुरक्षा बलों को भारी पैमाने पर नुकसान पहुंचाने के लिए नक्सलियों के द्वारा 21 श्रृंखला बम लगाए थे। जिन्हें सुरक्षा बलों ने सर्च ऑपरेशन के दौरान तलाश लिया और नक्सलियों के मंसूबे पर एक बार फिर से पानी फेर दिया। बरामद बमों को सुरक्षा बलों ने डिफ्यूज कर दिया।

चाईबासा के एसपी अजय लिंडा के मुताबिक नक्सलियों द्वारा सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने के मकसद से यह बम प्लांट किए गए थे, परंतु जवानों की की सतर्कता के चलते उनका पता चल गया। सभी बमों को निष्क्रिय कर दिया गया है। गुरुवार को पकड़े गए नक्सली जयमन अरकी से पूछताछ की सर्च ऑपरेशन में पर हुआ सर्च ऑपरेशन

गुरुवार को गिरफ्तार भाकपा माओवादी का सक्रिय सदस्य जयमन अरकी ने पूछताछ में बताया कि गोइलकेरा थाना के वनग्राम केदाबूरु के पास जंगली कच्चे रास्ते में जवानों को नुकसान पहुंचाने के लिए नक्सलियों ने बड़े पैमाने पर श्रृंखला बम लगा रखा है।

एसपी ने कहा कि इसके बाद सर्च ऑपरेशन चलाया गया जवानों ने अपनी सजगता से नक्सलियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया।

एसपी ने बताया की चाईबासा के जंगलों में नक्सल अभियान से नक्सलियों में बौखलाहट है और सुरक्षाबलों को निशाना बनाने को लेकर नक्सलियों ने बम को प्लांट किया था।

बता दें कि कि झारखंड के चाईबासा में प्रतिदिन सुरक्षाबल बम बरामद कर रहे हैं।

उसी सूचना के आधार पर सर्च ऑपरेशन चलाया गया। सर्च ऑपरेशन के दौरान 5-5 केजी के 21 आइईडी बम बरामद दिये गये। ये बम सीरीज में लगाये हुए थे.