12 को रांची में स्टेक होल्डर्स मीट

0

नई दिल्ली में पिछले दिनों आयोजित स्टेक होल्डर्स मीटिंग की अगली कड़ी में रांची में ही ऐसी ही एक बैठक के आयोजन की तैयारी की जा रही है। कार्यक्रम में राज्य की उद्योग नीति पर व्यवसायिक घरानों और उनसे जुड़े संगठनों से भी चर्चा होगी और सभी के सहयोग से नई नीति का प्रारूप तय किया जाएगा।

विभिन्न चैंबरों और औद्योगिक घरानों को कार्यक्रम में शरीक होने का निमंत्रण दिया जाएगा। सरकार अब निवेश के लिए झारखंड के उद्योगपतियों को जुटाएगी। यह निवेश के प्रस्ताव बढ़ाने की एक और मशक्कत है। तैयारियों को अंतिम रूप देने में उद्योग विभाग जुटा है। विभिन्न चैंबरों और औद्योगिक घरानों को कार्यक्रम में शरीक होने का निमंत्रण दिया जाएगा।

पिछली उद्योग नीति लैप्स हो चुकी है। इसे फिर से तैयार करने की कवायद के तहत ये सभी आयोजन हो रहे हैं। उद्योग विभाग के सूत्रों ने बताया कि 12 मार्च को कार्यक्रम आयोजित करने के लिए तैयारियां युद्ध स्तर पर की जा रही हैं। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से भी इसके लिए स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे। इसके अलावा उद्योग विभाग की ओर से प्रदेश के अलग-अलग औद्योगिक क्षेत्रों से विभिन्न संगठनों को भी आमंत्रित  किया जाएगा।

पिछली उद्योग नीति लैप्स हो चुकी है। इसे फिर से तैयार करने की कवायद के तहत ये सभी आयोजन हो रहे हैं। उद्योग विभाग के सूत्रों ने बताया कि 12 मार्च को कार्यक्रम आयोजित करने के लिए तैयारियां युद्ध स्तर पर की जा रही हैं। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से भी इसके लिए स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे। इसके अलावा उद्योग विभाग की ओर से प्रदेश के अलग-अलग औद्योगिक क्षेत्रों से विभिन्न संगठनों को भी आमंत्रित  किया जाएगा।पिछली उद्योग नीति लैप्स हो चुकी है। इसे फिर से तैयार करने की कवायद के तहत ये सभी आयोजन हो रहे हैं। उद्योग विभाग के सूत्रों ने बताया कि 12 मार्च को कार्यक्रम आयोजित करने के लिए तैयारियां युद्ध स्तर पर की जा रही हैं। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से भी इसके लिए स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे। इसके अलावा उद्योग विभाग की ओर से प्रदेश के अलग-अलग औद्योगिक क्षेत्रों से विभिन्न संगठनों को भी आमंत्रित  किया जाएगा।