15 अप्रैल से नहीं शुरू होगी यात्री ट्रेन सेवाएं

0

वार्ता स्पेशल : रेलवे मंत्रालय ने उन सूचनाओं को खारिज करते हुए ट्वीट कर दिया कि जिसमें कहा गया था कि ‘कोरोना वायरस के कारण यात्री ट्रेनों को 21 दिन तक स्थगित करने के बाद 15 अप्रैल से अपनी सभी सेवाएं बहाल करने की तैयारी शुरू कर दी है’।रेल मंत्रालय की ओर से एक ट्वीट कर कहा गया है कि रेल सेवाओं को बहाल करने की अभी कोई योजना नहीं है।

रेल मंत्रालय ने यह स्पष्ट किया है कि रेल सेवा से संबंधित ऐसी कोई सूचना मंत्रालय की ओर से जारी नहीं की गयी है।

गौरतलब है कि मीडिया में खबरें आ रही थीं कि रेल सेवाएं 15-16 अप्रैल से बहाल हो सकती।

रेल मंत्रालय ने कहा कि 15 अप्रैल से नहीं चलेंगी ट्रेनें अभी और प्रतीक्षा करनी होगी।

Ministry of Railways

@RailMinIndia

Certain media reports have come on a post lockdown “restoration plan” with train details,frequency etc. It is to clarify that no such plan regarding the resumption of passenger services has been issued.All concerned would be duly informed about any further decision in this regard

1,836

14:18 – 4 Apr 2020

Twitter Ads information and privacy

636 people are talking about this

इस तरह की चर्चा थी कि रेलवे के सभी सुरक्षा कर्मियों, स्टाफ, गार्ड, टीटीई और अन्य अधिकारियों को 15 अप्रैल से अपने-अपने कार्यस्थलों पर लौटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

ट्रेनों का संचालन सरकार से हरी झंडी मिलने के बाद ही शुरू होगा।सरकार ने इस मुद्दे पर मंत्रियो का समूह गठित किया है।

इसी बीच, कथित रूप से रेलवे ने ट्रेनों के संचालन की समयसारिणी, उनके फेरे और बोगियों की उपलब्धता के साथ अपने सभी रेल जोनों को सेवाओं को ‘‘बहाल करने की योजना’’ जारी की है।

सूत्रों ने यह भी जानकारी दी थी कि सभी 17 जोनों को अपनी-अपनी सेवाएं संचालित करने के लिए तैयार रहने का संदेश दिया गया है।15 अप्रैल से करीब 80 प्रतिशत ट्रेनों के निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार चलने की संभावना है जिनमें राजधानी, शताब्दी, दुरंतो ट्रेनें शामिल हैं। साथ ही लोकल ट्रेनें चल सकती है सप्ताह के अंत तक सभी जोन को सटीक ठोस योजनाएं भेजी जाएगी।

बता दे कि प्रधानमंत्री के द्वारा 24 मार्च से लाकडाउन की घोषणा के साथ ही रेलवे ने भी 21 दिनों के लिए मालगाड़ियों को छोड़कर ट्रेन सेवाएं रोक दी थी।