एच क्यू सेंटर का हाल : मुखिया खुद बना रही खाना, अँधेरे में मजदुर

0

मझिआंव : कोविड 19 को लेकर जहां पूरे भारतवर्ष में लॉक डाउन के साथ धारा 144 लगा दी गई है। जिसके बाद प्रखंड क्षेत्र के लोग जो दूसरे राज्यों में मजदूरी का काम करते थे वह जैसे तैसे 200 से लेकर 300 किलोमीटर तक पैदल चलकर अपने निवास स्थान पहुंच रहे हैं।

वहीं राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिला प्रशासन के द्वारा एच क्यू सेंटर बनाया गया है। उस एच क्यू सेंटर पर लोगों को रोका जा रहा है। वहीं मझिआंव प्रखंड क्षेत्र में फिलहाल 10 एच क्यू सेंटर बनाया गया है। जिसमें प्रखंड के बोदरा पंचायत के उत्क्रमित मध्य विद्यालय बोदरा में 1 एच क्यू सेंटर बनाया गया है। वहां पर कई जगहों से पंचायत के 9 लोग बाहर से आए हुए हैं।

जहां मुखिया रजनी देवी एवं मुखिया प्रतिनिधि मुन्ना सिंह के द्वारा खाना बनाकर खिलाया जा रहा है। जब मुखिया से जानकारी लिया गया तो उन्होंने कहा कि स्कूल की रसोईया को कहने पर वह खाना बनाने से इंकार कर गई, लेकिन मेरा फर्ज बनता है कि हमारे यहां जो लोग आए हुए हैं उन्हें भूखे पेट नहीं रहने देना है।

इस बात की जानकारी प्रखंड विकास पदाधिकारी को भी दे दिया गया है। वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी अमरेन डांग ने कहा कि वह मुखिया अपने फर्ज को अदा कर रहे हैं एवं वो काबिले तारीफ है। रसोईया जो खाना नहीं बना रही है उस पर शिक्षा विभाग के वरीय पदाधिकारी को बताया जाएगा।

ज्ञात हो कि उक्त स्कूल में जनरेटर की व्यवस्था नहीं कराई गई थी। इस संबंध में पूछे जाने पर उक्त पंचायत के मुखिया रजनी देवी ने बताया कि इस संबंध में प्रखंड विकास पदाधिकारी को अवगत करा दिया गया है। लेकिन अभी तक किसी प्रखंड के प्रशासनिक अधिकारियों ने सुधी तक नहीं ली।